A

2016-10-29

Yatra Ke 15 Fayde, Gumane, Firane Ke Labh Ke Bare Me Jane


Yatra Ke Fayde Jane-यात्रा के 15 फायदे

घूमना-फिरना न सिर्फ आपके मूड को तरोताजा करता है, बल्कि कई तरह की बीमारियों से भी आपको बचाता हैं। क्‍या हैं यात्रा करने के 15 फायदे, जाने।





01 फ्रैमिंघम हार्ट स्‍टडी में हुए एक अध्‍ययन की मानेतो जो लोग यात्रा अधिक करते हैंउनमें हार्ट अटैक या अन्‍य बीमारियों के हाने की संभावना कम रहती है।


02 घूमने-फिरने से अलग-अलग वातावरण के संपर्क में आते हैजिससे मजबूत एंटीबॉडीज का निर्माण होता है।इससे इम्‍यून सिस्‍टम बूस्‍ट होता है।

03 एक अध्‍ययन के अनुसार35 से 50 वर्ष के बीच लोगों को साल में दो बार घूमने जाना चाहिए। इससे शारीरिक एवं मानसिक रूप से लाभ होता है।


04 यूनिवर्सिटी ऑफ पिट्सबर्ग के माइंड बॉडी सेंटर द्वारा किए गए एक अध्‍ययन में कहा गया है कि हरी-भरी वादियों में घूमने जाने से तनाव दूर होता है।


05 यात्रा ऑफिस के तनाव और भागदौड भरी जिंदगी से बाहर निकलने का मौका देता है। इससे सुकून भरी जिंदगी में रिलैक्‍स होकर कुछ पल व्‍यतीत करते है।


06 माइंड बॉडी सेंटर में हुए एक अन्‍य अध्‍ययन की मानेतो हिल स्‍टेशन जाने से रक्‍त दबाव एवं मोटापा कम होता है और हड्डियां भी मजबूत होती है।
07 भावनात्‍मक रूप से मजबूत बनते है।
घुमने-फिरने से सोचने का नजरिया बदलता है। नई-नई जगहो की सामाजिक आदतेंपंरपराओं को करीब से देखते है। अच्‍छी आदतें सीखने है। ज्ञान का विस्‍तार होता है।

08 नए लोगों से मिलनेनई परिस्थितियों के साथ सामंजस्‍य स्‍थापित करने से कॉग्निटिव फ्लेक्सिबिलिटी बढती है। इससे दिमाग तेज होता है।


09 घूमने से फिट रह सकते है। नई और रोमांचक चीजों को करने के लिए प्रोत्‍साहित होते है। मांसपेशियां मजबूत होती हैऊर्जावान महसूस करते है।

10 जिंदगी के प्रति यदि आपकी सोच नकारात्‍मक हैतो घुमने-फिरने से ऐसी सोच बदलती है। देश-दुनिया को आप सकारात्‍मक तरीके से देख पाते है।


11 एक अध्‍ययन के अनुसारयात्रा का रचनात्‍मकतासांस्‍कृतिक जागरूकता और व्यक्तिगत विकास से गहरा जुडाव होता है।

12 मस्तिष्‍क में मौजूद न्‍यूरल पाथवेज वातावरण और नई जगहों को देखने से प्रभावित होता है। इससे दिमाक की रचनात्‍मक क्षमता और सक्रियता बढती है।
In Sab Ke Faydo Ke Bare Me Jane



13 वैज्ञानिक दृष्टि से यह साबित हुआ है कि यात्रा से खुशी महसूस होती है। कई दिनों तक आप कम चिंतित और बेहतर मूड की स्थिति में र‍ह पाते है।


14 जनरल ऑफ पर्सनैलिटी एंड सोशल साइकोलॉजी के अनुसारजो यात्रा करते है या विदेश में पढतें हैवे बहिर्मुखी और भावनाम्‍तक रूप से मजबूत होते है।


15 प्रकृतिबर्फीली वादियों और धार्मिक स्‍थलों की आबोहवा में हीलिंग प्रॉपर्टीज होती हैजिससे दर्द दूर होने के साथ उम्र बढती है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें