A

2017-07-12

गाय और भैंस Ke Doodh Ke Fayde

गाय और भैंस का दूध, किसके लिए क्‍या?
6% वसा होता है भैंस के एक गिलास दूध में, जबकि चार फीसदी ही वसा होता है गाय के एक गिलास दूध में।
4% प्रोटीन की मात्रा होती है भैंस के दूध में और तीन प्रतिशत गाय के एक गिलास दूध में।

दूध है सेहतमंद और पौष्टिक। हर दिन एक गिलास दूध पीने से शरीर को ताकत मिलती है। यह आप जानते है। लेकिन क्‍या आप ये जानते है कि गाय का दूध फायदेमंद है या भैंस का? यदि यह जानकर दूध पिएंगे, तो फायदा अधिक होगा।


कुछ लोग दूध पिए बिना घर से नहीं निकलते, तो कुछ ऐसे भी होते है, जो दूध को देखते नही नाक-भौह सिकोडने लगते है। किसी को गाय का दूध अच्‍छा लगता है, तो किसी को भौंस का दूध पीना पसंद होता है। दूध पीना फायदेमंद तो है, लेकिन यह शरीर को तब और लाभ पहुचाता है, जब आप इनमें मौजूद पौष्टिक तत्‍वों को जानकर इसका सेवन करें। डाइटिशियन कहती है कि हर उम्र के लोगों को दूध जरूर पीना चाहिए। दूध पीने से ताकत मिलती है और हड्डियां मजबूत होती है। यदि गाय और भैंस के दूध की पौष्टिकता के लिहाज से तुलना की जाए, तो भैंस के दूध में कैल्शियम की मात्रा अधिक होती है। ऐसे में उन लोगों को भैंस के दूध का सेवन अवश्‍य करना चाहिए, जिनकी हड्डियां और दांत कमजोर है। यह कार्डियोवैस्‍कुलर सेहत को भी दुरूस्‍त रखता है। वजन बढना चाहते है, तो भैंस का दूध पिएं। इनमें मिनरल्‍स जैसे मैग्‍नीशियम, पोटैशियम और फॉस्‍फोरस भी अधिक होता है। गाय के दूध में भी कई तरह के मिनरल्‍स, विटामिन्‍स और प्रोटिन होते है। जहां तक वसा की बात है, तो गाय के दूध के मुकाबले भैंस के दूध में 100 फीसदी वसा होता है। इस वजह से इसे अधिक दिनों तक आप रख सकते है। गाय के दूध कोलेस्‍ट्रॉल अधिक और कैलोरी कम होती है। जिन बच्‍चों का वजन अधिक है, उन्‍हे गाय का दूध पिलाना चाहिए, क्‍योकि यह हल्‍का होता है और जल्‍दी पच जाता है। शोध के अनुसार, जो लोग शारीरिक रूप से मजबूत होना चाहते है, उन्‍हें भैंस का दूध पीना चाहिए। यदि आप तेज दिमाग और याद्दाश्‍त क्षमता को बझाना चाहते है, तो आपके लिए गाय का दूध बेहतर साबित हो सकता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें