A

2017-07-14

Hasne Ke Labh In Hindi-हंसते हुए बनेगी बात

हंसते हुए बनेगी बात

रोजाना 10 से 15 मिनट हंसे, 40 कैलारी तक कम करें, तो साल में दो से तीन किलो वजन कम हो जाएगा।


हंसना है जरूरी


5-53 मांसपेशियों का इस्‍तेमाल करता है हमारा शरीर, जब हम हंसते है।
69%  लोगो ने एक शोध में कहा कि महिलांए मेकअप की बजाय हंसते वक्‍त अच्‍छी लगती है।एक शोध के अनुसार हम ऑफिस के मुकाबले घर में ज्‍यादा हंसते है
अक्‍सर आपने लोगों को कहते सुना होगा, लाफ्टर इज द बेस्‍ट मेडिसिन यानी स्‍वस्‍थ रहने के लिए हंसने या मुस्‍कुराने से बेहतर कोई और दवा नहीं1 हसना एक स्‍वाभाविक व प्राकृतिक क्रिया है। सभी को खूब हंसना और मुस्‍कुराना चाहिए। इसका कोई दुष्‍प्रभाव भी नहीं होता है। कई शोध कहते है कि खुलकर हंसने से एंडॉर्फिन नामक हार्मोन का निर्माण होता है। एंडॉर्फिन एक प्राकृतिक दर्द निवारक है, जो हमें स्‍वस्‍थ बनाए रखने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाता है। इतना ही नहीं यदि आपके चेहरे पर तनाव या चिंता की बजाय मुस्‍कान रहती है, तो इससे मूड बेहतर होता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत होती है।
1.
2.
3.
4.

5.
19 तरह की होती है मुस्‍कान

सैन फ्रांसिस्‍को में हुए एक शोध के अनुसार, 19 तरह की मुस्‍कान होती है, जिसे शोधकर्ता ने दो सूची में विभाजित किया है। पहला सोशल स्‍माइल, जिसमें हंसने के दौरान कुछ मांसपेशियों का उपयोग होता है। दूसरा फेल्‍ट स्‍माइल, जिसमें चेहरे के दोनों हिस्‍सों की अधिक मांसपेशियों का इस्‍तेमाल होता है।जन्‍म के दौरान से ही बच्‍चे हेसयना सीख जाते है। अधिकतर चिकित्‍सकों का यह मानना है कि वास्‍तविक मुस्‍कान चार से छह सप्‍ताह के बच्‍चे के चेहरे पर तब नजर आती है, जब वे सोकर उठते है। लेकिन यह भी सच िहै कि जन्‍म लेने के तुरंत बाद ही नींद में बच्‍चें मुस्‍कुराने लगते है।

कुछ सेहत की बातें-

01 हंसने-हंसाने से डाईफ्राम फैलता और सिकुडता है। इससे फेफडे को पर्याप्‍त मात्रा में ऑक्‍सीजन को समायोजित करने में मदद मिलती है। इससे शरीर में लगातार प्रतिक्रिया होती है और हृदय रक्‍त तेजी से पम्‍प कर पाता है। ऐसे में शरीर में रक्‍त का संचरण सुचारू रूप से बना रहता है। 
02 हंसने से इम्‍यून सिस्‍टम को मजबूती मिलती है। इससे शारीरिक और मानसिक सेेहत भी दुरूस्‍त रहता है। जब आप हंसते या मुस्‍कुराते है, तो उस दौरान शरीर बहुत ज्‍यादा रिलैक्‍स महसूस करता है। इससे मानसिक स्‍तर को मजबूती मिलने के साथ ही आत्‍मविश्‍वास भी बढता है।
03 हंसने से मस्तिष्‍क के दाएं और बाएं दोनों भाग सक्रिय रहते है। इसके परिणाम स्‍वरूप निर्णय क्षमता बढती है। याद्दाश्‍त तेज होती है। व्‍यक्ति के मानसिक स्‍तर को मजबूती मिलती है। चिंता और व्‍यग्रता में कमी आती है। मानसिक रूप से रिलैक्‍स महसूस करने से आप अधिक खुश रह पाते है।
1.
2.
3.
4.


5.
04 हंसने से चेहरे के साथ-साथ शरीर की सम्‍पूर्ण मांसपेशियों में खिंचाव होता है। इससे आराम मिलता है और शरीर रिलैक्‍स महसूस करता है।
05 हंसने से ब्‍लड वेसल्‍स की कार्य क्षमता में सुधार आता है। रक्‍त प्रवाह बढता है। इससे हार्ट अटैक और अन्‍य कार्डियोवैस्‍कुलर समस्‍याओं से आप बचे रहते है।
06 जिम में घंटो पसीना बहाते है। घर पर भी व्‍यायाम करते है, फिर भी वजन कम नही हो रहा?? तो कभी थोडी देर हंसकर देखें। एक अध्‍ययन के नअुसार, एक दिन में 10 से 15 मिनट तक हंसने से लगभग 40 कैलोरी कम हो सकती है। इसका मतलब यह है कि आप एक वर्ष में दो से तीन किलो वजन कम कर लेते है।

07 यह भरपूर मात्रा में कैलोरी खर्च करने वाला एक स्‍वाभाविक व्‍यायाम है। इस कारण से मधुमेह के रोगियों को भी हंसने से काफी लाभ हो सकता है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें