यहां क्लिक करे और Bitcoin कमाये.........

इन वेबसाइट से घर बैठे पैसे कमाये, यहॉ Click करे और पैसे कमाये

गलतियों से सीख-motivation thought for students in hindi



गलती करना जिंदगी का अहम हिस्‍सा है। लेकिन गलतियों के आगे घुटने टेक देना उचित नहीं। इससे समस्‍या हल नहीं होगी, बल्कि बढती ही जाएगी।

हार के बाद ही जीत है...............

अगर कोई कहता है कि उसने कभी गलती नही की तो समझ लीजिए कि वह झूठ गोल रहा है। हम इंसान है और गलतियां हमारी जिंदगी का अहम हिस्‍सा है। निराशा की स्थिति में हम यह मान लेते है कि अब कुछ नही हो सकता है। लेकिन क्‍या ऐसा करने से अपकी समस्‍या हल हो जाएगी?? क्‍या आपकी हार जीत में बदल जाएगी?? प्रत्‍येक हार हमें सीख देकर जाती है कि हमें हारकर जीतने की कोशिश करनी चाहिए। जिस तरह फटबाल धरती पर पटकने से फिर से उछल कर ऊपर आती है, उसी तरह हारने वाले इंसान को भी उछल कर वापस खडा होना चाहिए, यह सोचते हुए कि हार के बाद जीत होगी।

1- जिन कारणों से हार हुई है, उन्‍ही गलतियों को बार-बार दोहराने से बचें। उनसे सीखने की कोशिश करें।
2- जिंदगी सभी को बराबर का मौका देती है। किस्‍मत के चक्‍कर में उस मौके को गंवाने से बचें।

गलतियों से सीखें

जब भी आपको हार का सामना करना पडे, तो मान लीजिए की आप से कही-न-कही चूक हो गई है तभी आपकी हार हुई है। वजह जानने की कोशिश करें कि आखिर ऐसा क्‍यों हुआ?/ फिर हिम्‍मत करके उस काम में दोबारा जुट जाएं। हार न मानें। गलतियों से सीखें । किसी भी घटना में सकारात्‍मक बातें ढूंढने कि कोशिश करें।

सफलता का आधार योग्‍यता 

रूचि, योग्‍यत, प्रवीणता,परिश्रम... ये कुछ ऐसे शब्‍द है, जो किसी ीि सफलता की राह निर्धारित करते है। हालाकिं इन शब्‍दों का अलग-अलग भी काफी महत्‍व है, पर जब ये एक साथ मिल जाते है, तो व्‍यक्ति की सफलता सुनिश्चित होती है। मन का काम व्‍क्ति को सफलता की ओर ले जाता है और अरूचि से किया गया कोई काम नकारात्‍मक परिणाम देता है। किसी काम में दिलचस्‍पी आपको वह ऊर्जा देती है, जिससे राह की तमाम मुश्किलें आसान हो जाती है। रूचि के बाद सफलता के लिए जरूरी आधार है योग्‍यता और क्षमता को बढाने की कोशिश कीजिए। इसके लिए योजना बनाइए। संबंधित क्षेत्र में अपना जानकारी दुरूस्‍त रखिए। अपनी योग्‍यता में निखार लाकर आप खुद को प्रवीण बना सकते है। प्रत्‍येक व्‍यक्ति में कुछ ऐसे गुण होते है, जों उसे खास बनाते है। उन गुणों को पहचानने का प्रयास करे। रूचि के अनुरूप योग्‍यता तभी विकसित होगी, जब आप कठिन परिश्रम करेंगे। लक्ष्‍य को प्राप्‍त करने के लिए अपना सौ प्रतिशत दे। खुद को पहचानें, अपने गुणों को परखें और फिर सुव्‍यवस्थित योजना के अनुसार काम करते हुए दुनिया को जीत लें।
गलतियों से सीख-motivation thought for students in hindi गलतियों से सीख-motivation thought for students in hindi Reviewed by Shubham Chauhan on अगस्त 21, 2017 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

इन वेबसाइट से घर बैठे पैसे कमाये, यहॉ Click करे और पैसे कमाये

Blogger द्वारा संचालित.